कई छात्रों की रुचि फाइनेंशियल सेक्टर में होती है तथा वे इसी क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है। ऐसे में सीए यानी कि चार्टर्ड अकाउंटेंट ऐसे छात्रों के लिए अच्छा विकल्प है। क्योंकि अर्थव्यवस्था में तेजी से परिवर्तन हो रहे हैं जिसने CA की मांग को बहुत ज्यादा बढ़ा दिया है। मांग बढ़ने के साथ ही सीए की सैलरी में भी इजाफा हुआ है। लेकिन CA बनना कोई आसान काम नहीं होता। इसके लिए कड़ी मेहनत और लगन की जरूरत होती है। यदि आप भी सीए बनना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। ईस लेख में आपको बताया जाएगा कि चार्टर्ड अकाउंट होता क्या है? CA के लिए कौन से कोर्स करने होते हैं व इस क्षेत्र में कितना पैसा लगता है।
सीए (CA) क्या है?
सीए से तात्पर्य है चार्टेड अकाउंटेंट( Charted Accountant) से। सीए का काम वित्तीय क्षेत्र में होता है तथा यह वित्तीय लेखा-जोखा देखने प्रबंधन करने, वित्तीय सलाहकार के रूप में व्यापार खाते, टैक्स और फाइनेंशियल से जुड़ी सलाह देने जैसे कार्य करता है। इसके अलावा CA जिस कंपनी में काम करता है ,वह उस कंपनी से संबंधित टैक्स रिटर्न ,जीएसटी, बैलेंस शीट तथा बिजनेस अकाउंट आदि को तैयार करता है।
सीए बनने के बाद कई क्षेत्रों में काम कर सकते हैं, जैसे कि बैंकिंग, टैक्स डिपार्टमेंट या फिर किसी कंपनी के अंतर्गत आप काम कर सकते हैं। मौजूदा समय में व्यवसाय के क्षेत्र में बहुत प्रगति हुई है जिस वजह से हर तरह की कंपनी को अपने लिए एक अकाउंटेंट की जरूरत होती है, क्योंकि फाइनैंशल वर्क हर इंडस्ट्री की जरूरत है। सीए की नौकरी में आपको अच्छी खासी सैलरी पैकेज भी मिलेगी।

सीए (CA) कैसे बनें? पूरी जानकारी।
अन्य परीक्षाओं से इतर सीए की परीक्षा तीन चरणों में होती है। परीक्षा का पहला चरण होता है फाउंडेशन कोर्स जिसके लिए रजिस्ट्रेशन कराना जरुरी होता है। हर कोर्स के लिए आपको निश्चित फीस अदा करनी होती है। लेकिन यदि आपने बी कॉम किया है तो आप सीधे इंटरमीडिएट कोर्स में रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इसके लिए बीकॉम में कम से कम 50% अंक लाने होते हैं। वहीं यदि आपने ग्रेजुएशन किसी अन्य विषय से की है तो आपको 60 फ़ीसदी अंक लाना अनिवार्य होता है।
फाउंडेशन कोर्स
फाउंडेशन कोर्स में रजिस्ट्रेशन आप 12वी की पढ़ाई करते हुए भी कर सकते हैं, क्योंकि सीए बनना बहुत कठिन होता है, इसके लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होती है। इसलिए कि आप 12वीं कक्षा से ही तैयारी में जुट जाएंगे तो आगे आपको आसानी होगी।
फाउंडेशन कोर्स के पंजीकरण की वैधता
फाउंडेशन कोर्स का पंजीकरण 3 साल तक का होता है। इन्हीं 3 साल के भीतर आपको फाउंडेशन एग्जाम पास करना होता है। यदि आप ऐसा नहीं कर पाते तो इस स्थिति में आपको फिर से रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। जैसे ही आप इस कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन कर लेते हैं, इसके बाद आपको 4 महीने का समय दिया जाता है। इसके अंतर्गत आपको पढ़ाई करके परीक्षा पास करना होता है। फाउंडेशन कोर्स में रजिस्ट्रेशन की फीस 9,800 रुपये होती है।
इसकी परीक्षा में चार प्रश्न पूछे जाते हैं, जिसे करने के लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाता है। परीक्षा में आपको कम-से-कम 40% अंक लाने होते है। इस तरह सभी पेपरों में 50% अंक आने जरूरी होते हैं जिसके बाद आप दूसरे चरण की परीक्षा दे सकते हैं।।
इंटरमीडिएट कोर्स
फाउंडेशन कोर्स के बाद आपको इंटरमीडिएट कोर्स करना पड़ता है। आप फाउंडेशन कोर्स करने के बाद इसमे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। यह रजिस्ट्रेशन 4 साल के लिए होता है। इंटरमीडिएट कोर्स में 8 पेपर होते हैं जो कि 100 नंबर के होते हैं। इन पेपर में पास होने के लिए 40 फ़ीसदी अंक लाना पड़ता है तथा सभी पेपरों में 50% अंक लाना जरूरी होता है। इंटरमीडिएट के लिए 27,200 रुपए फीस देना होता है।
फाइनल कोर्स
सीए फाइनल कोर्स को सीए आर्टिकलशिप भी कहते हैं। जब आप इंटरमीडिएट कोर्स पूरा कर लेते हैं,तब आपको 3 साल के लिए यह कोर्स करना होता है। इस कोर्स में प्रैक्टिकल ट्रेनिंग दी जाती है तथा इस ट्रेनिंग से 6 महीने पहले भी आप से फाइनल कोर्स का फॉर्म भर सकते हैं। सीए फाइनल के लिए एक एग्जाम देना होता है। जिसे पास करते ही आपसे सीए कहलाएंगे। लेकिन इसकी परीक्षा अन्य परीक्षाओं में सबसे कठिन होती है। लेकिन कड़ी मेहनत से आप इस परीक्षा को पास कर पाएंगे। इस कोर्स की वैधता 5 साल की होती है तथा इसमें रजिस्ट्रेशन के लिए ₹32300 देने होते हैं। फाइनल कोर्स को करने के बाद आप किसी भी कंपनी में चार्टर्ड अकाउंटेंट के बतौर काम कर सकते हैं। एक सीए को शुरुआत में 50 हज़ार से 70 हज़ार तक का वेतन मिलता है तथा जब आप इस क्षेत्र में अनुभव प्राप्त कर लेते हैं तब आपकी सैलरी 5लाख से छह लाख तक प्रतिमाह हो सकती है।

About Author

प्लान फ्यूचर

शिक्षा, करियर और रोजगार की सभी जानकारी हिंदी में ... प्लान फ्यूचर स्कूल और कॉलेज जाने वाले छात्रों के साथ-साथ नौकरी खोजकर्ताओं के लिए एक स्टॉप गंतव्य है।

अपना सवाल पूछे या कमेंट करे

Your email address will not be published. Required fields are marked *