यूपी में प्री बोर्ड की शुरुआत आज से हो चुकी है और कुछ समय में बोर्ड की परीक्षाएं भी शुरु हो जाएंगी। परीक्षाओं के नजदीक आते-आते छात्रों में भी घबराहट बढ़ रही है। कई छात्र जहां परीक्षा की तैयारी समय रहते पूरी करना चाहते हैं, तो कई छात्रों को परीक्षा कर डर सता रहा होगा। इस स्थिति में यह जरूरी नहीं कि जो पढ़ने में कमजोर है, उन्हें ही परीक्षाओं का डर सता रहा है। बल्कि जो छात्र पढ़ने में अच्छे होते हैं उन्हें भी परीक्षाओं के समय डर लगना लाजमी है। आपके इस डर को कम करने तथा आप यूपी बोर्ड परीक्षा की तैयारी अनोखी तरीके से कर सके, इसके लिए कुछ तरीके बताए जा रहे हैं।
यूपी बोर्ड की परीक्षा की तैयारी के लिए अनोखे तरीके निम्नलिखित है:-
यह सुनिश्चित करें कि प्रतिदिन आप कितना पढ़ेंगे
परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्रतिदिन यह तय करें कि आप किस विषय में से कितने अध्यायों को एक दिन में कवर करेंगे। ऐसे ही परीक्षाओं तक हर दिन के लिए एक विषय को पकड़े तथा उसे एक निश्चित समय दे। प्रतिदिन ऐसे गोल तय करने से आप समय आवंटन कर पाएंगे। आप यह पता लगा पाएंगे कि इस विषय में कितना समय लग रहा है। इससे आप अपनी तैयारी भी जोरदार तरीके से कर सकेंगे।
मोबाइल, लैपटॉप और टेलीविजन से रहे दूर
परीक्षाओं के समय इस बात का ध्यान रखें कि आप मोबाइल, लैपटॉप और टीवी से दूरी बनाए रखें। क्योंकि यही वे चीजें हैं जो परीक्षा के समय आपको सबसे ज्यादा भटकाती है। पहले ही अपने दोस्तों ,परिजनों सबको यह सूचित कर दे कि आप की परीक्षाएं हैं और आप उनकी तैयारी में लगे है। ऐसे में कोई आपको फोन या मैसेज ना भेजें। हालांकि कोरोनाकाल में पढ़ाई ऑनलाइन हो गई है। इस स्थिति में यदि आपके फोन में पढ़ाई से सम्बंधित नोट्स या कोई वीडियो मौजूद है तो सिर्फ उन्हें ही अपने पास रखें।
सभी अध्यायों और विषयों की सूची तैयार करें
आपके जितने भी विषय है उनकी अध्यायों के आधार पर सूची तैयार कर ले। उसी सूची के हिसाब से पढ़ते रहें और जो अध्याय आप पढ़ ले, उसे सूची में टिक कर दे। इससे आपको पता चल जाएगा कि आपको और कितना पढ़ना है तथा आप समय प्रबंधन कर पाएंगे।
शांत जगह पर बैठकर पढ़े
सबसे पहले जब भी आप पढ़ने बैठे, पहले तो अपने दिमाग को शांत करें। फिर अपने आसपास के वातावरण को। ऐसे वातावरण में ना पढ़े जहां अधिक शोर शराबा हो। यदि आप ऐसी जगह पर बैठकर पढ़ेंगे तो आपका ध्यान भटकेगा तथा आप पढ़ाई में अपना ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएंगे ना ही आपको कुछ याद होगा। इसीलिए ऐसे स्थान पर जाकर पढ़े जो शांत हो। यदि आपके घर में ऐसा कोई स्थान न हो तो आसपास किसी पुस्तकालय में पढ़ाई करें।
अगर पढ़ाई याद ना हो तो लिखकर पढ़े
कई बार ऐसा होता है हम भी किसी विषय को याद करने की कई बार कोशिश करते है, लेकिन फिर भी याद नहीं हो पाता। ऐसी स्थिति में आप जिसे याद करना चाहते हैं उसे लिख लिखकर याद करेंगे तो यह काफी समय तक आपके दिमाग में रहेगा। लिखने से आपको फायदा यह होगा कि आपकी प्रैक्टिस हो जाएगी और परीक्षा के समय आप जल्द लिख पाएंगे।
विषय को पहले समझें फिर याद करें
जब आप कोई भी विषय पढ़ रहे होते हैं तब उसे पहले समझने की कोशिश करें। उसके बाद याद करें क्योंकि यदि आप उसे जल्दबाजी में याद करने की कोशिश करेंगे तो आप उसे लंबे समय तक याद नही रख पाएंगे। ऐसे याद कर किये गए विषय छात्र अक्सर परीक्षाओं में भूल जाते है।
पढ़ने से पहले जरुरत का समान लेकर बैठे
आप जब भी पढ़ने का मिजाज बना कर बैठेंगे तो इस बात का ध्यान जरूर रखें कि आप पढ़ते समय जरुरत पड़ने वाली सभी चीजों को अपने साथ लेकर बैठेंगे। क्योंकि यदि आप बीच-बीच में उठकर उसी को लेने जाएंगे तो ऐसे आपका ध्यान पढ़ाई से भटक जाएगा। और अगर एक बार ध्यान पढ़ाई से भटक गया तो आपका मन पढ़ाई में दोबारा लगना मुश्किल हो जाएगा।

About Author

प्लान फ्यूचर

शिक्षा, करियर और रोजगार की सभी जानकारी हिंदी में ... प्लान फ्यूचर स्कूल और कॉलेज जाने वाले छात्रों के साथ-साथ नौकरी खोजकर्ताओं के लिए एक स्टॉप गंतव्य है।

अपना सवाल पूछे या कमेंट करे

Your email address will not be published. Required fields are marked *