अक्सर लोग सोशल मीडिया पर आर्टिकल्स पढ़ते हैं और उनके मन में ख्याल आता है कि अगर उन्हें मौका मिले तो वे कुछ अलग तरह से इस आर्टिकल को लिखते. Blogging का आइडिया बहुत से लोगों को आता है लेकिन हर कोई Successful Blogger नहीं बन पाता. अगर आप भी एक सफल Blog बनाना चाहते हैं और खुद का Blogging Site चलाना चाहते हैं तो आपको यहां Blogging kaise suru karien के बारे में पूरी जानकारी हम इस आर्टिकल में देंगे.

क्या होती है ब्लॉगिंग? | What is Blogging?

ब्लॉग वो जगह होती है जहां लोग अपने विचारों को शब्दों के जरिए व्यक्त करते हैं. जब आप Google पर कुछ भी सर्च करते हैं और आपको जो वेबसाइट नीचे रिजल्ट में मिलती है उन्हें ही ब्लॉग कहते हैं. ब्लॉग एक तरीके से वेबसाइट होती है, बस हमें उसमें लगातार पोस्ट डालने गोते हैं जो हमारी वेबसाइट है, वो ब्लॉग का सबसे बेहतर उदाहरण होता है. एक व Web Log जिसे संक्षिप्त में ब्लॉग कहते हैं, असल में एक वेब पेज होता है जिसमें कंटेंट लिखे जाते हैं और इन ब्लॉग पोस्ट को ही ब्लॉहगिंग कहते हैं. वहीं Web page में सही तरह के tools का इस्तेमाल करके आप लिखने, ब्लॉग पोस्ट करने, लिंकिंग और इंटरनेट पर शेयर करके पैसा भी कमा सकते हैं. 

ब्लॉगिंग कितने प्रकार की होती है? | Types of Blogging in Hindi

ब्लॉगिंग दो प्रकार से होती है जिसमें इवेंट ब्लॉगिंग और परमानेंट ब्लॉगिंग आती है. इन दोनों के बारे में आपको विस्तार से बताते हैं…

1. Event Blogging : इस प्रकार की ब्लॉगिंग शैली कुछ दिन के लिए करते हैं. सामग्री और लेख कम डालना पड़ता है और लोगों तक फैलाने का काम ज्यादा करते हैं. इसकी अवधि ज्यादा समय की नहीं होती है. इसमें आप पैसे तो खूब कमा लेते हैं लेकिन वो कम समय के लिए ही होता है. मगर इसमें रिस्क भी होता है क्योंकि अगर यह नहीं चला तो लगा हुआ पैसा डूब जाता है. इवेंट ब्लॉगिंग को बनाने के लिए तजुर्बे की जरूरत पड़ती है. आपके पास पहले से ही आप को फॉलो करने वाला लोगों का समुदाय होना चाहिए, तभी आप अपने कंटेंट्स को रातों-रात वायरल कर सकते हैं.

2. Permanent Blogging: परमानेंट ब्लॉगिंग में बहुत मेहनत लगती है. सामग्री तथा लेख बहुत डालते हैं और इसमें काफी इंतजार करना पड़ता है. मगर एक बार ऐसा ब्लॉक बन जाने के बाद किसी प्रकार की समस्या आगे नहीं आती है. ऐसी वेबसाइट से आप हमेशा पैसे कमा सकते हैं. आमतौर पर लोग इसी ब्लॉगिंग वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं.

ब्लॉगिंग कैसे शुरू कर सकते हैं? | Kaise suru Kare Blogging?

ब्लॉगिंग शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले इससे जुड़ी सारी जानकारी बटोर लेनी चाहिए. इसके बाद एक थीम सोच लीजिए कि आप किस टॉपिक पर आधारित अपने ब्लॉग को रखना चाहते हैं. आपको वो तरीके सीखने होंगे जिससे आप अपने आर्टिकल्स को गूगल पर रैंक करवा सकें. ब्लॉग शुरू करने के लिए आपको दो चीजों की आवश्यकता पड़ेगी, पहला डोमेन और दूसरा होस्टिंग.

1. डोमेन क्या है? | What is Domain?

किसी वेबसाइट या ब्लॉग को बनाने के लिए आपको डोमेन खरीदना होता है. कभी-कभी कुछ वेबसाइट डोमेन फ्री में देते हैं लेकिन अगर आप अपनी वेबसाइट को लंबा ले जाना चाहते हैं तो इसे खरीदना अच्छा विकल्प है. किसी अच्छी कंपनी के जरिए आप डोमेन खरीद सकते हैं, इसे खरीदने के बाद ही आप होस्टिंग खरीद सकते हैं. इन दोनों के बिना वेबसाइट बनाना असंभव है. सबसे पहले आपको एक Domain name सोचना होगा, उसके बाद साइट पर जाकर चेक करना होगा कि जो नाम आपने सोचा है वो उपलब्ध है या नहीं. जब आपका मनपसंद नाम आपको डोमेन के जरिए मिल जाए फिर आपको होस्टिंग खरीदने का प्रोसेस देखना चाहिए.

होस्टिंग क्या होती है? What is Hosting?

डोमेन के बाद होस्टिंग इसलिए जरूरी है क्योंकि यहां आपकी वेबसाइट या ब्लॉग का डाटा सेव होता है. इसका मतलब ये है कि जब आप किसी ब्लॉग पर काम करते हैं तो वो स्टोर होता जाता है और वेबसाइट में अगर कोई दिक्कत आती है तो आपके कंटेंट सुरक्षित रहते हैं. 

कैसे कमाएं ब्लॉगिंग से पैसे? | Blogging se paise kaise kamaye?

ब्लॉगिंग करके पैसे कमाने के बहुत सारे तरीके उपलब्ध हैं लेकिन यहां हम आपको कुछ सटीक तरीके बताएंगे जिससे आप Online Money बना सकते हैं.

1. Adsense Ads के जरिए पैसे कमाएं

अगर आपने अपना ब्लॉग बनाया है और उसमें अच्छा खासा ट्रैफिक भी आने लगा है. मगर अगर हर दिन 100 विजिटर्स भी आ रहे हैं तो आप गूगल एडसेंस लगाकर पैसे कमा सकेत हैं. 

2. Affiliate marketing के जरिए पैसे कमाएं

एफिलिएट मार्केटिंग का इस्तेमाल करके भी लोग लाखों रूपए कमाते हैं. अगर आप अपने Blog पर किसी product का review देगें तो आप एफिलिएट मार्केटिंग से भी पैसे कमा सकते हैं. इसमें आपको amazon और snapdeal ऐसी किसी ई-कॉमर्स वेबसाइट के प्रोडक्ट का लिंक उठाकर अपने ब्लॉग पर डालना होगा. फिर जब लोग आपकी वेबसाइट के जरिए लिंक पर क्लिक करेंगे और प्रोडक्ट खरीदेंगे तो आपको उसका कमीशन भी मिलता है.

3. Digital Product के जरिए कमाएं पैसे

आप अपना खुद का डिजिटल प्रोडक्ट बनाकर बेचकर भी पैसे कमा सकते हैं. उदाहरण के तौर पर E-Book बनाइए और उसे बेचिए. ये बहुत ही आसान तरीका है, अपनी किताब को आप कई दूसरी वेबसाइट पर सेल कर सकते हैं या दूसरे लोगों के प्रोडक्ट के लिंक अपनी वेबसाइट पर लगाकर उसका पैसा चार्ज कर सकते हैं.

4. Social Media के जरिए कमाएं पैसे

आप अपने ब्लॉग का इस्तेमाल करके अपने सोशल प्लेटफॉर्म्स को भी इंगेज कर सकते हैं. वेबसाइट पर आए लोगों को Youtube Channel पर भेजें और यहां से भी आप पैसे कमा सकते हैं. आप अपना एंड्रायड एप्लीकेशन बनाकर लोगों से डाउनलोड करवाइए. इसके अलावा अपनी वेबसाइट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर जोड़कर ट्रैफिक भेजें.

About Author

anshu

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *